टोक्यो ओलंपिक: हरियाणा की बेटी पूजा ने मुक़ाबले से पहले किया था पिता को फ़ोन, कहा- पापा…

नई दिल्ली, टोक्यो ओलंपिक । हरियाणा की मुक्केबाज पूजा बोहरा ने बुधवार को मुकाबले में जाने से 2 मिनट पहले ही पिता को फ़ोन कर लिया था. पिताजी से पूजा ने फ़ोन किया और कहा- कि पापा आप चिंता मत करिए, आपकी बेटी देश को मायूस नहीं करेगी. रिंग में उतरते ही पूजा ने अपने इरादे भी ज़ाहिर कर दिए. मैच शुरू होते ही पूजा ने अल्जीरिया की मुक्केबाज इचराक चाईब पर लगातार हमले किए और मैच 5-0 से जीत लिया.

pooja

हरियाणा की पूजा प्रदेश की पहली मुक्केबाज हैं, जिन्होंने ओलंपिक में पदक की उम्मीद जगाई है. पूजा के पूरे परिवार ने मैच का सीधा प्रसारण देखा है. पूजा के पिता राजबीर ने बताया कि मैच शुरू होने से पहले दिल थोड़ा घबरा रहा था, पर मैच में पूजा का प्रदर्शन देखकर तसल्ली आ गई थी, और मैच जरूर जीतेगी ऐसा अनुभव होने लगा था.

यह भी पढ़े -   बॉर्डर खुलवाने को लेकर हाईकोर्ट में याचिका दायर,15 नवम्बर को होंगी सुनवाई

दरअसल 2 बजकर 33 मिनट पर शुरू हुए मुकाबले में पूजा बोहरा शुरू से ही प्रतिद्वंदी मुक्केबाज पर हावी रहीं. पहले राउंड से ही पूजा ने आक्रामक खेल दिखाते हुए बढ़त बनाना शुरू कर दिया. तीसरे राउंड तक अल्जीरिया की मुक्केबाज उबर नहीं सकीं. इस मौके पर पिता राजवीर बोहरा, मौसा राय सिंह बामल के अलावा भाई मनोज अरविंद, मनीष छिल्लर और आदित्य भी टीवी के सामने से एक सेकंड के लिए भी नहीं हटे. इसके अलावा भांजा कबीर, भांजी हुनर और बहन मोनिका मौजूद रहीं.

राइट हुक और स्ट्रेट हुक मजबूत पक्ष

हरियाणा की पूजा बोहरा के कोच संजय श्योराण ने बताया की राइट हुक और स्टेट हुक पूजा के सबसे मजबूत पक्ष हैं. बुधवार के मैच में भी पूछा ने इन्हीं पर फोकस रखा था. पूजा का हर पंच निशाने पर लग रहा था. इससे विरोधी मुक्केबाज का मनोबल टूट जाता और पूजा हावी होती चली जातीं.

यह भी पढ़े -   दिल्ली- एनसीआर के लाखों वाहन चालकों के लिए जरूरी खबर, ऐसे वाहनों को देखते ही जब्त करेगी पुलिस

संजय श्योराण ने बताया कि पूजा की एकाग्रता भी मजबूत है. वह जल्दी से आपा नहीं खोती. पूजा ने सही मौका मिलते ही अल्जीरियाई मुक्केबाज के चेहरे पर पंच लगाया. उन्होंने विश्वास जताया कि पूजा टोक्यो से देश के लिए स्वर्णिम खुशी लेकर लौटेगी.

गौरतलब है सुबह से ही पूजा की जीत के लिए घर में पूजा अर्चना चल रही थीं. पंडितों ने पूजा की जीत के लिए रूद्राभिषेक किया. जब तक पूजा का मैच खत्म नहीं हुआ तब तक पूजा जारी रहीं. पूजा को विजेता घोषित करते ही परिवार के लोग खुशी से उछल पड़े. मिठाई बांटकर खुशी मनाई, वहीं परिवार को बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!