दोपहर में आंधी व बूंदाबांदी से बदला मौसम, अगले दो दिन भी मौसम रहेगा खराब

हिसार । मंगलवार सुबह से ही प्रदेश में मौसम बदलाव की वजह से आसमान में बादल छाए रहे. वहीं दोपहर बाद हिसार में तेज आंधी चली तथा फतेहाबाद व सिरसा में बुंदाबांदी हुईं. हल्की बूंदाबांदी से लोगों को गर्मी से राहत मिलीं है. अभी दो दिन और मौसम में बदलाव देखने को मिलेगा.

aandhi

मौसम विभाग की ओर से सोमवार को एक अलर्ट जारी किया गया था. जिसके अनुसार फतेहाबाद व आसपास क्षेत्र में 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने व बूंदाबांदी की संभावना जताई गई थी.

यह भी पढ़े -   अगले तीन घण्टों में हिसार, भिवानी समेत इन जिलों में बारिश की संभावना, जाने जिलों के नाम

20 व 21 अप्रैल को बारिश के आसार

चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय के कृषि मौसम विज्ञान विभाग के अध्यक्ष डॉ मदन खिचड़ ने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ का आंशिक प्रभाव व राजस्थान के उपर बनने वाले साइक्लोनिक सर्कुलेशन बन रहा है. इससे राज्य के उत्तरी व पश्चिमी जिलों में 20 व 21 अप्रैल को बादलवाही रहने, बीच-बीच में तेज हवाएं चलने की आंशका है. 22 अप्रैल से मौसम खुश्क व गर्म संभावित है.

यह भी पढ़े -   मेवात में तुफानी बारिश के साथ जमकर ओलावृष्टि, 18 दुधारू मवेशियों की गई जान

आढ़ती व अधिकारी हुए परेशान

मौसम में लगातार बदलाव से आढ़ती व अधिकारी परेशान नजर आए. अनाज मंडियों में गेहूं की ढेरियां पड़ी है तो बोरियों के उठान का कार्य भी धीमा चल रहा है. अगर तेज बारिश आती है तो और नुक्सान की संभावना है. अगर उठान से पहले बोरी बारिश से भीगती है तो आढ़ती व मार्केट कमेटी सचिव जिम्मेदार है. आढ़तियों के पास इतनी अधिक व्यवस्था नहीं है कि वे सभी के लिए तिरपाल की व्यवस्था कर सकें.

यह भी पढ़े -   अगले तीन घंटो में इन जिलों में तेज आंधी व बूंदाबांदी संभावित, जाने जिलों के नाम

बुधवार को भी मौसम में गड़बड़ी की संभावना

फतेहाबाद के उपकृषि निदेशक डॉ राजेश सिहाग ने बताया कि बुधवार को भी मौसम परिवर्तन शील रहेगा. ऐसे में किसान नरमे की बिजाई रोक लें. जिन किसानों ने गेहूं कढ़ाई नहीं की है वो जल्द से जल्द कर लें. आंधी के साथ हल्की बूंदाबांदी की संभावना बनी रहेगी.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!