Cotton Price: किसानों की हो गई बल्ले-बल्ले, सोने के भाव में बिक रही है कपास

चंडीगढ़, Cotton Price | ज्यादातर यही सुना और देखा जाता है कि किसानों को बेहद नुकसान हुआ या उन्हें अपनी मेहनत का मुनाफा नहीं मिला. लेकिन इस बार किसान भाइयों खुशी की मौका है क्योंकि इस बार किसानों को कपास के अच्छे भाव मिल रहे हैं. जी हां, पिछले कुछ दिनों से कपास के भावों में तेजी दिखाई दे रही है. यानी की कपास की कीमतों में बढ़ोतरी का फायदा उन कपास उत्पादक किसनों को मिल रहा है जिन्होंने अपनी कपास की फसल को रोक कर रखा हुआ था. देखा जाए तो यह पहली बार है कि किसानों को कपास के इतने ऊंचे भाव मिल रहे हैं.

यह भी पढ़े -   24% NCR एरिया घटाने की तैयारी में हरियाणा सरकार, जानें कौन- कौन से जिलें हो जाएंगे बाहर

kapas

क्या है भाव बढ़ने का कारण

कपास के भाव इतनी तेजी से बढ़ने का कारण रुस – यूक्रेन का युद्ध है. जी हां, क्योंकि इस युद्ध के कारण सभी फसलों के भावों में तेजी दर्ज की गई है. जिसमें से गेहूं और सरसों तो प्रमुख है. लेकिन अब इसमें कपास भी शामिल हो गया है. लेकिन केवल एक यही कारण नहीं है बल्कि कपास के भाव बढ़ने का एक और कारण है और वो है गुलाबी सुंडी. दरअसल, गुलाबी सुंडी के प्रकोप से कपास की फसल को नुकसान हुआ जिस कारण कपास का उत्पादन घटा है. यही कारण है कि बाजार में कपास की मांग के अनुसार उत्पादन नहीं हो पाया है. जिस कारण भावों में तेजी देखी जा रही है.

देश की प्रमुख मंडियों में क्या है कपास के भाव?

महाराष्ट्र के वर्धा की सिंदी मंडी में कपास के भाव 13200 रुपए प्रति क्विटंल चल रहा है. अकोला मंडी में 12800 एवं अन्य मंडियो में 12600 प्रति क्विटंल भाव चल रहा है.

यह भी पढ़े -   स्कूली बच्चों की पढ़ाई के लिए ढाई लाख टैबलेट और खरीदेगी हरियाणा सरकार, जल्द निकाला जाएगा टेंडर

गुजरात की जामनगर मंडी में कपास के भाव 12110, राजकोट मंडी में 12150 और धोराजी मंडी में कपास का भाव 12170 रुपए प्रति क्विटंल है.

हरियाणा की रोहतक मंडी में कपास के भाव 9540, एलेनाबाद मंडी में 9560, फतेहाबाद मंडी में 9570, हिसार मंडी में 9550 और सिरसा मंडी में 9540 रुपए प्रति क्विटंल है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!