गुरुग्राम: कट की खटपट व लाल बत्ती के झंझट से मिलेगा छुटकारा, मात्र 18 मिनट में ही पहुंच सकेंगे राजीव चौक से सोहना

गुरुग्राम | राजीव चौक से सुभाष चौक, इस्लामपुर, टिकरी कट, वाटिका चौक होते हुए सोहना जाने वाले वाहन चालकों के लिए महत्वपूर्ण जानकारी है. अभी वाहन चालकों को राजीव चौक से सोहना तक पहुंचने में करीब 50 मिनट का समय लगता है लेकिन जून महीने के अंत में शुरू होने वाले कॉरिडोर के बाद आप 22 किलोमीटर की इस दूरी को 15 से 18 मिनट में तय कर सकेंगे.

Highway

बता दें कि दिल्ली- सोहना- अलवर हाइवे पर राजीव चौक से सोहना के बीच बन रहे 22 किलोमीटर लंबे इस कॉरिडोर को इस हिसाब से तैयार किया जा रहा है कि यहां वाहन 120 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ सकें. ऐसे में इस कारिडोर के बनने से वाहन चालकों को राजीव चौक से सोहना के बीच लगने वाले कट व लाल बत्ती की परेशानी से निजात मिल सकेगी. इस कॉरिडोर के जून महीने के आखिर तक तैयार होने की उम्मीद जताई जा रही है.

लगाए जाएंगे बोर्ड व कैमरे

नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (NHAI) के अधिकारी विकास मित्तल ने बताया कि सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित करने के उद्देश्य से राजीव चौक से बादशाहपुर के बीच रोड़ पर सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे. सोहना, अलवर या फिर जयपुर जाने वाले लोग ही एलिवेटेड रोड़ का इस्तेमाल करे, इसकी जानकारी देने के लिए हाईवे पर बोर्ड लगाए जाएंगे. सर्विस रोड़ पर जाम नहीं लगे इसके लिए भी इंतजाम किए गए हैं. जगह-जगह वाहनों के लिए यू-टर्न की व्यवस्था की गई है और सर्विस रोड़ को काफी चौड़ा बनाया जा रहा है. उन्होंने बताया कि इस प्रोजेक्ट में लाइटिंग व फिनिशिंग का काम जल्द पूरा कर लिया जाएगा.

यह भी पढ़े -   हरियाणा को मिलेगा 2 नए Highway का तोहफा, 11 जुलाई को नितिन गडकरी करेंगे शुभारंभ

चल रहा है निर्माण कार्य

इस प्रॉजेक्ट का पहला फेस राजीव चौक से बादशाहपुर के आगे तक करीब 9 किलोमीटर है. इस फेस में सुभाष चौक से लेकर बादशाहपुर के आगे तक करीब 5.5 किलोमीटर लंबा एलिवेटेड रोड़ का निर्माण चल रहा है, जबकि दूसरा फेस बादशाहपुर के आगे से लेकर सोहना तक करीब 13 किलोमीटर है. एक अप्रैल से बादशाहपुर के आगे से लेकर सोहना तक के भाग को चालू कर दिया गया था.

यह भी पढ़े -   BJP की राह चलें दुष्यंत चौटाला, अपने बलबूते चुनावी रण में उतरने को तैयार JJP

अभी 10-15 मिनट का ब्रेक

बता दें कि अभी यहां राजीव चौक से सोहना की ओर जाने के दौरान सुभाष चौक पर वाहन चालकों को अक्सर लाल बत्ती होने पर ब्रेक लगाने पड़ते हैं. यहां से कुछ दूर चलने पर सड़क के दोनों और मार्केट व रेजिडेंशल एरिया होने के कारण वाहनों की रफ्तार धीमी हो जाती है और कई बार जाम की स्थिति बन जाती है. वाटिका चौक पर भी अक्सर जाम के हालात बने रहते हैं. यहां चारों तरफ से ट्रैफिक का दबाव अधिक रहने पर लोगों को कई बार 10-15 मिनट से अधिक समय लगाना पड़ जाता है. यहां अब अंडरपास बनने से लोगों की परेशानी खत्म होगी.

यह भी पढ़े -   दिल्ली- गुरुग्राम के बीच आवागमन हुआ आसान, खुल गया Y शेप वाला अंडरपास

जाम से मिलेगी निजात

दिल्ली या गुरुग्राम से जयपुर और मुंबई जाने वाले वाहन चालकों को गुरुग्राम के ट्रैफिक जाम से निजात मिल सकेगी. इस कॉरिडोर के रास्ते ही वाहन चालक मुंबई तक का सफर तय कर सकेंगे. दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस-वे में अलीपुर गांव के समीप रोड़ को दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस-वे से जोड़ दिया गया है, हालांकि अभी कुछ काम जारी है. इसके जल्द पूरा होने की उम्मीद है. इस कॉरिडोर व मुंबई एक्सप्रेस-वे के शुरू होने से जयपुर पहुंचना आसान हो जाएगा.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!