Vastu Tips: तुलसी के पौधे में जल देते समय बोले यह मंत्र, घर में बनी रहेगी सुख-समृद्धि

चंडीगढ़, Vastu Tips | हिंदू धर्म की मान्यताओं के अनुसार तुलसी के पौधे को दैवीय गुणों से परिपूर्ण माना जाता है. तुलसी का पौधा जहां भी होता है, वहां सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह होता है. धार्मिक मान्यताओं के अनुसार तुलसी के पौधे में मां लक्ष्मी का वास माना जाता है. इसी वजह से सभी लोग रोज तुलसी को दिया दिखाते हैं और नियमानुसार पूजा अर्चना करते हैं.

TULSI

वास्तु के अनुसार यदि आप तुलसी में रोजाना जल अर्पित करते हैं, तो इससे महालक्ष्मी की आप पर विशेष कृपा होती है. तुलसी के पौधे को सही दिशा में लगाने से भी शुभ परिणाम प्राप्त होते हैं. तुलसी के पौधे को जल देते समय आपको कुछ बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए.

मां तुलसी को जल अर्पित करते समय इन बातों का रखें ध्यान 

  • धार्मिक मान्यताओं के अनुसार तुलसी के पौधे में जल देने से पहले कुछ भी खाना नहीं चाहिए, बिना भोजन किए तुलसी के पौधे में जल अर्पित किया जाना अच्छा माना जाता है.
  • तुलसी में जल देते समय ऐसा वस्त्र पहनना चाहिए जो कि बिना सिलाई का हो, अर्थात एक रंग का वस्त्र धारण करके तुलसी में जल देना अच्छा माना जाता है.
  • धार्मिक मान्यताओं के अनुसार रविवार के दिन तुलसी में जल अर्पित नहीं करना चाहिए,  इस दिन मां तुलसी विश्राम करती हैं.
  • एकादशी के दिन तुलसी में जल अर्पित नहीं करना चाहिए, माना जाता है कि इस दिन मां तुलसी भगवान विष्णु के लिए निर्जला व्रत रखती हैं.
  • तुलसी में जल अर्पित करते समय आपको विशेष मंत्रों का उच्चारण भी करते रहना चाहिए. ऐसा करने से आपके घर में सुख- समृद्धि बनी रहती है. मंत्र है- ‘महाप्रसाद जननी, सर्व सौभाग्यवर्धिनी, आधि व्याधि हरा नित्यं, तुलसी त्वं नमोस्तुते.’
  • तुलसी के पौधे को पूरब दिशा में लगाना अच्छा माना जाता है, इसके अलावा इसे उत्तर -पूर्व दिशा में भी लगाया जा सकता है. इन दिशाओं में तुलसी का पौधा लगाने से वह हरा- भरा रहता है, साथ ही सकारात्मक ऊर्जा का संचार भी होता है.
यह भी पढ़े -   Janmashtami 2022 Wishes in Hindi: हाथी घोड़ा पालकी, जय कन्हैया लाल की, जन्माष्टमी पर सबको ये प्यारे मेसेज

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!