EPFO मेंबर्स को दफ्तरों की भागदौड़ से मिलेगा छुटकारा, अब ऑनलाइन मिलेगी ये सुविधा

नई दिल्ली | कर्मचारी भविष्य निधि संगठन यानि (EPFO) ने अपने ग्राहकों को बड़ी सहूलियत प्रदान की है. सदस्यों की संख्या का बड़ा आंकड़ा और इसमें किए गए फाइनेंशियल ट्रांजेक्शन की संख्या के मामले में दुनिया के सबसे बड़े सामाजिक सुरक्षा संगठनों में से एक ईपीएफओ में वर्तमान समय में करीब साढ़े 7 करोड़ सदस्य हर महीने भविष्य निधि, पेंशन और बीमा योजनाओं में सक्रिय रूप से योगदान दे रहे हैं.

EPFO

EPFO द्वारा इस वित्तीय वर्ष के पहले 2 महीनों में ही आवास के लिए अग्रिम राशि, बच्चों की मैट्रिक के बाद की शिक्षा, विवाह, बीमारी, अंतिम भविष्य निधि निपटान, पेंशन, बीमा आदि जैसे सामाजिक सुरक्षा लाभों के रूप में लगभग 87 लाख दावों का निपटान किया गया है.

मजबूत कंप्यूटर सॉफ्टवेयर से हुआ मुमकिन

पीएफ मेंबर्स इन लाभों का दावा ऑनलाइन करते हैं और यह एक मजबूत कंप्यूटर सॉफ्टवेयर एप्लिकेशन के माध्यम से संभव हुआ है, जो यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (UAN) में सदस्य के डेटा को मान्य करता है. ऐसे में EPFO के रिकॉर्ड में सदस्यों के डेटा की एकरूपता सबसे महत्वपूर्ण है, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि सेवाएं ऑनलाइन निर्बाध रूप से और सही सदस्य को प्रदान की जाएं, ताकि गलत भुगतान या धोखाधड़ी के किसी भी जोखिम से बचा जा सके.

ऑनलाइन अपडेट कर सकते हैं प्रोफाइल

इस तरह ईपीएफओ की तरफ से गत वर्ष 22 अगस्त को जारी एक मानक संचालन प्रक्रिया (SOP) के जरिए सदस्यों के प्रोफ़ाइल में डेटा की सुरक्षा सुनिश्चित की जा रही है. इसे अब ईपीएफओ की तरफ से डिजिटल ऑनलाइन मोड में संचालित किया गया है.

पीएफ सदस्य अब नाम, लिंग, डेट ऑफ बर्थ, माता- पिता का नाम, वैवाहिक स्थिति, राष्ट्रीयता, आधार आदि जैसे अपने डेटा को ऑनलाइन एप्लिकेशन देकर अपडेट करवा सकते हैं. एप्लिकेशन के साथ आपको अपने अनुरोध से जुड़े जरूरी डाक्यूमेंट्स भी अपलोड करने होंगे.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!