इनकम ढाई लाख से कम है तो भी फाइल करे ITR, जानें इनकम टैक्स रिटर्न भरने के फायदे

नई दिल्ली | इनकम टैक्‍स रिटर्न (ITR) फाइल करने के लिए अब कुछ ही दिन रह गए हैं. ITR फाइल करने की लास्ट डेट 31 जुलाई है. ऐसे में कई लोग सोच रहे होंगे कि अगर उनकी सालाना इनकम ढाई लाख से कम है और वो टैक्स के दायरे में नहीं आते हैं तो उन्हें ITR भरने की जरूरत नहीं है, लेकिन आप गलत सोच रहे हैं.

itr

दरअसल, जो लोग इनकम टैक्स के दायरे में नहीं आते उन्हें भी ITR फाइल करना चाहिए, क्योंकि ITR फाइल करने के कई फायदे होते हैं. इससे आपको कई चीजों में सुविधा मिलती है. आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से ITR फाइल करने के फायदों के बारे में बताएंगे.

आसानी से मिलता है लोन

ITR आपकी इनकम का प्रूफ होता है. जिसे इनकम प्रूफ के तौर पर सभी बैंक और NBFC स्‍वीकार करते हैं. ऐसे में अगर कभी आपको लोन की जरुरत पड़ती है तो आप बेहद आसानी से बैंक लोन के लिए आवेदन कर सकते हैं. अगर आप नियमित तौर पर ITR फाइल करते हैं तो बैंक को भी आप पर भरोसा होता है जिससे आपको आसानी से लोन मिल जाता है.

यह भी पढ़े -   Viral Video: पटना वाले खान सर का विवादित वीडियो वायरल, खड़ा हुआ नया विवाद

वीजा के लिए जरूरी

गौरतलब है कि किसी दूसरे देश में जाने के लिए वीजा की आवश्यकता पड़ती है. ऐसे में अगर आपके पास वीजा नहीं है तो आपको वीजा के लिए अप्लाई करना होता है. इस दौरान आपसे इनकम टैक्‍स रिटर्न मांगा जा सकता है. दरअसल, कई देशों की वीजा अथॉरिटीज वीजा के लिए 3 से 5 साल का ITR मांगते हैं.

यह भी पढ़े -   Delhi MCD Exit Poll 2022: एग्जिट पोल में AAP को पूर्ण बहुमत, बीजेपी-कांग्रेस की हालत खस्ता

टैक्स रिफंड क्लेम करने के लिए

कई बार ऐसा होता है कि आपकी आमदनी से टैक्स काटकर सरकार के पास जमा करा दिया जाता है ऐसे में कई बार लोगों को टैक्स रिफंड वापस नहीं मिलता. ऐसे में अगर आपका ITR फाइल रहेगा तो आप अपना टैक्स रिफंड आसानी से क्लेम करवा सकते हैं.

एड्रेस प्रूफ के रूप में भी आती है काम

कई बार एड्रेस प्रूफ के लिए ITR बेहद जरुरी होता है. क्योंकि ITR रसीद आपके पंजीकृत पते पर भेजी जाती है जो एक तरह से एड्रेस प्रूफ के रूप में काम आ सकती है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!