हरियाणा में सियासी हलचल के बीच मुख्यमंत्री का बड़ा बयान आया सामने, मुख्यमंत्री बोले- हरियाणा कैबिनेट में….

Casino

चंडीगढ़ | बीते दिनों में हरियाणा के राजनीतिक गलियारों में हलचल तेजी से बढ़ी. जिस तरह राजधानी दिल्ली में मुख्यमंत्री समेत प्रदेश के तमाम नेताओं की पार्टी हाईकमान से मुलाकातों का दौर जारी था उससे कयास लगाए जा रहे थे कि हरियाणा में जल्द ही कैबिनेट मंत्री मंडल का विस्तार होगा. कैबिनेट में फेरबदल को लेकर तमाम तरह की बातें सामने निकल कर आ रही थी.

Webp.net compress image 11

प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर स्वयं मामले में सामने आए. उन्होंने हरियाणा कैबिनेट में फेरबदल की तमाम अफवाहों को खारिज करते हुए कहा कि अभी हम कैबिनेट में फेरबदल नहीं कर रहे हैं. सीएम के इस बयान के बाद अब कैबिनेट मंत्रीमंडल विस्तार की तमाम अफवाहों पर विराम लगा है. जानकारी के लिए बता दें कि प्रदेश में किसान आंदोलन और कोरोना महामारी के चलते कैबिनेट के विस्तार को लंबे समय से टाला जा रहा था. फिलहाल मनोहर कैबिनेट में 12 मंत्री शामिल है.

राजधानी दिल्ली में पिछले एक पखवाड़े से हरियाणा की सियासी गतिविधियां तेजी से बढ़ी. मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर अपने दूसरे कार्यकाल के 600 दिन पूरे होने के बाद से तीन दिवसीय दिल्ली दौरे पर थे. जहां उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा जैसी तमाम बड़े नेताओं से मुलाकात की. राज्य के गृह मंत्री अनिल विज भी लगातार पार्टी के आलाकमान से बैठकें कर रहे थे.

यह भी पढ़े -   CMIE की रिपोर्ट को लेकर हुड्डा ने गठबंधन सरकार को घेरा, कहां- विश्वास नहीं है तो चैलेंज करके दिखाएं

वही हरियाणा सरकार में जजपा प्रमुख और उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने भी गृह मंत्री अमित शाह समेत तमाम बड़े नेताओं से मुलाकात की. राजधानी में बढ़ी हरियाणा की सियासी हलचल के बाद अनुमान लगाया जा रहा था कि तमाम बैठकें कैबिनेट में फेरबदल को लेकर हो रही है. हालांकि इन सभी नेताओं ने मंत्रिमंडल विस्तार या फेरबदल की किसी भी संभावनाओं को स्पष्ट नहीं किया था. प्रेस द्वारा पूछे जाने पर भी इन नेताओं ने मंत्रिमंडल विस्तार की अफवाहों को लगातार खारिज किया था.

यह भी पढ़े -   हरियाणा के मुख्यमंत्री का किसान आंदोलन को लेकर बड़ा बयान, ओम प्रकाश चौटाला का किया समर्थन

दरअसल, बतौर मुख्यमंत्री अपनी पहली पारी के बाद मनोहर लाल खट्टर ने दो मंत्रियों को उनके कामकाज से असंतोष जारी करते हुए हटाया था. राजनीतिक जानकारों का मानना है कि अब अपने दूसरे कार्यकाल के 600 दिन पूरे होने पर मुख्यमंत्री कुछ मंत्रियों के कार्यों से संतुष्ट नहीं है जिसके बाद कैबिनेट मंत्रीमंडल में फेरबदल की खबरें सामने आई. वही मंत्रिमंडल में जजपा के किसी एक विधायक को मंत्री पद मिलना भी तय माना जा रहा है. अब देखना दिलचस्प होगा कि आखिर हरियाणा कैबिनेट में फेरबदल कब और किस तालमेल के साथ होता है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!