1 अक्टूबर से बदलने वाले हैं क्रिकेट के यह बड़े नियम, ICC की बैठक में लिया गया फैसला

नई दिल्ली | चीफ एग्जीक्यूटिव कमेटी (ICC) ने सौरव गांगुली की अध्यक्षता में एक बैठक की. इस बैठक के दौरान कई बड़े नियमों में बदलाव को लेकर चर्चा की गई. बता दें कि इंटरनेशनल क्रिकेट में अब मांकडिंग आउट नहीं होगा, आईसीसी की तरफ से इसे अमान्य कर दिया गया है. अब यह रन आउट माना जाएगा. बता दें कि क्रिकेट संचालित करने वाली संस्था ICC की चीफ एग्जीक्यूटिव कमेटी की तरफ से प्रस्तावित बदलावों को मंजूरी दे दी गई है. बदले हुए नियमों को 1 अक्टूबर 2022 से लागू कर दिया जाएगा. वहीं 16 अक्टूबर से ऑस्ट्रेलिया में T20 वर्ल्ड कप भी शुरू हो रहा है और इस बार  T20 वर्ल्ड कप नए नियमों के तहत खेला जाएगा.

Mohammed Shami

इन बड़े नियमों में किया गया बदलाव 

  • T20 क्रिकेट में धीमी गति से ओवर करने पर भी जुर्माने का प्रावधान किया गया है. साल 2023 विश्व कप के बाद इसे वनडे में भी लागू कर दिया जाएगा. इन नए नियमों के तहत गेंदबाजी करने वाली टीम को निश्चित समय के अंदर ही अपना आखिरी ओवर शुरू करना होगा. यदि वह ऐसा नहीं कर पाती है तो समय सीमा के बाद जितने भी ओवर होते हैं उसमें एक फील्डर बाउंड्री से हटाकर 30 गज के दायरे के अंदर रखना पड़ता है. जिससे बल्लेबाजों को काफी सहायता मिलती है. मौजूदा समय में यह नियम T20 क्रिकेट में ही लागू है और अगले साल इसे वनडे में भी लागू कर दिया जाएगा.
  • सभी महिलाओं और पुरुषों के वनडे और टी-20 मैचों में दोनों टीमों की सहमति के बाद ही हाइब्रिड पिचों का उपयोग किया जा सकेगा. मौजूदा समय में केवल महिलाओं के T-20 क्रिकेट के लिए हाइब्रिड पिचों का इस्तेमाल किया जाता है.
  • अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 2 साल से भी अधिक का समय हो चुका है, जब गेंद चमकाने के लिए लार के उपयोग पर प्रतिबंध लगाया गया था. तब कोरोना महामारी की वजह से ऐसा फैसला लिया गया था लेकिन, अब इसे स्थाई रूप से लागू कर दिया गया है.
  • अब कोई बल्लेबाज कैच आउट होता है तो नया बल्लेबाज स्ट्राइक पर आएगा. भले ही बल्लेबाज कैच लेने से पहले एक-दूसरे को पार हो गए हो. पहले यह नियम था कि कैच पकड़े जाने से पहले अगर बल्लेबाज एक-दूसरे को पार कर लेते थे, तो दूसरे स्ट्राइक पर खड़ा बल्लेबाज स्ट्राइक पर आ जाता था और नया बल्लेबाज नॉन स्ट्राइक एन्ड पर चला जाता था.
  • अब विकेट गिरने के बाद में बल्लेबाज को टेस्ट और वनडे मैचों में 2 मिनट के अंदर स्ट्राइक लेने के लिए तैयार होना होगा. वहीं टी-20 मैचों में इस नियम में कोई भी बदलाव नहीं किया गया है. पहले नए बल्लेबाज को स्ट्राइक पर आने के लिए 3 मिनट का समय दिया जाता था.
  • गेंदबाज के गेंद फेंकने से ठीक पहले यदि फील्डर की तरफ से जानबूझकर कोई अनुचित हरकत की जाती है, तो अंपायर उस गेंद को डैड बोल देने के अलावा बल्लेबाजी करने वाली टीम को पेनल्टी के रूप में 5 रन भी दे सकते हैं.
  • यदि कोई गेंदबाज गेंद करने से पहले नॉन स्ट्राइक एन्ड पर खड़े बल्लेबाज की गिलिया उड़ा देता है, तो उसे रन आउट माना जाएगा. पहले इसे मोकडिंग के नाम से जाना जाता था और पहले इसे खेल की भावना से विपरित माना जाता था.
  • पहले बल्लेबाज गेंद खेलने से पहले ही क्रीज से बाहर आ जाते थे तो गेंदबाज थ्रो करके उसे रन आउट कर सकते थे लेकिन, अब नियमों में बदलाव कर दिया गया है. ऐसा करने पर अब वह गेंद डेड बॉल करार दी जाएगी.
यह भी पढ़े -   Yorker Ball Kaise Dala Jata Hai- यॉर्कर बॉल कैसे डाला जाता है? यहाँ सीखे

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!