किसान आंदोलन से ट्रेनों के संचालन पर बुरा असर, 72 ट्रेनें रद्द; रूट डायवर्ट से संचालित होगी ये ट्रेनें

अंबाला | पंजाब-हरियाणा सीमा पर स्थित शंभु बार्डर के पास रेलवे ट्रैक पर डटे किसानों का आंदोलन आज 26वें दिन में पहुंच चुका है जिसके चलते रेल यातायात बुरी तरह से प्रभावित हो रहा है. रेलवे द्वारा 72 ट्रेनों को रद्द किया गया है जबकि 62 ट्रेनों को रूट डायवर्ट और 15 ट्रेनों को बीच रास्ते रोककर संचालित किया गया है.

Amrit Bharat Express Train

निर्धारित समय पर एक्सप्रेस ट्रेनों का संचालन

वहीं लंबी दूरी की ट्रेनों को समय पर चलाने के लिए अब करीब 80 मालगाड़ियों का संचालन धूरी-जाखल के रास्ते किया जा रहा है, जिससे चंडीगढ़-साहनेवाल रेल सेक्शन पर दबाव के चलते घंटों देरी से चल रही वंदे भारत सहित अन्य मेल व एक्सप्रेस को भी निर्धारित समय अनुसार संचालित किया जा सके. इस रूट पर केवल कोयला व गेहूं आदि लेकर आवागमन करने वाली मालगाड़ियां ही संचालित हो रही है ताकि थर्मल पॉवर प्लांट प्रभावित न हो.

वहीं, जो यात्री अंबाला कैंट रेलवे स्टेशन से अपना आगामी सफर करते थे, उन्हें अब ट्रेन पकड़ने के लिए लुधियाना या फिर किसी दूसरे स्टेशन पर जाने की जरुरत नहीं होगी. हालांकि अमृतसर, ऊना हिमाचल, नंगल डैम व सरहिंद से सवार होने वाले यात्रियों को अंबाला कैंट आना पड़ सकता है.

पुनः संचालित होने वाली ट्रेनें

  • रेलवे ने ट्रेन नंबर 15211/12 दरभंगा-अमृतसर-दरभंगा जनसाधारण एक्सप्रेस को अंबाला कैंट स्टेशन पर रद्द करके पुन: संचालित करने का फैसला किया है.
  • ट्रेन नंबर 04501/ 02 हरिद्वार-ऊना हिमाचल-हरिद्वार, ट्रेन नंबर 12326 नंगल डैम-कोलकाता और ट्रेन नंबर 05565/ 66 सहरसा-सरहिंद-सहरसा का संचालन भी अंबाला कैंट स्टेशन तक ही किया जाएगा. यह प्रक्रिया तुरंत प्रभाव से आरंभ कर दी गई है.

बीच रास्ते खड़ी ट्रेनों की मिलेगी जानकारी

वहीं, अंबाला कैंट रेलवे स्टेशन पर घंटों से ट्रेन का इंतजार कर रहे यात्रियों के लिए राहत भरी खबर सामने आई है. रेलवे ने देरी से चलने वाली ट्रेनों की जानकारी देने के विशेष निर्देश दिए हैं. इस दौरान ऐसी ट्रेनों की जानकारी भी दी जाएगी जोकि एकल रेल सेक्शन चंडीगढ़-साहनेवाल के बीच घंटों खड़ी रहती हैं, बेशक इसके समय पर आने की जानकारी न भी हो लेकिन यात्रियों को यह उम्मीद बंधेगी कि उनकी ट्रेन स्टेशन पर जरूर आएगी और वो घंटों की देरी से ही सही अपना आगामी सफर पूरा कर सकेंगे.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!