हरियाणा के सरकारी स्कूल में हुए रिकॉर्ड तोड़ दाखिले, मुखियाओ व अध्यापकों को किया जाएगा सम्मानित

अम्बाला। कोरोना काल के कारण इस बार हरियाणा के सरकारी स्कूलों में रिकॉर्ड तोड़ दाखिले हुए. बता दे कि जिसकी वजह से सरकारी स्कूलों में छात्रों की संख्या 25 लाख को पार कर गई है. पिछले 2 सालों में 4 लाख 40 हजार से ज्यादा विद्यार्थियों ने सरकारी स्कूलों में दाखिला लिया है. जिसके कारण ड्रॉपआउट दर में काफी गिरावट देखने को मिली है. दाखिलों में बढ़ोतरी के लिए विद्यालयों के मुखियाओ व अध्यापकों का काफ़ी अहम योगदान रहा.

यह भी पढ़े -   हरियाणा में डिजिटल हुई पढ़ाई, स्मार्ट क्लास रूम में बच्चे कर रहे हैं पढ़ाई

SCHOOL STUDENT

कोरोना काल मे सरकारी स्कूलों में हुए रिकॉर्ड तोड़ एडमिशन

इसको  देखते हुए हरियाणा शिक्षा निदेशालय आधारित मापदंड से ज्यादा एडमिशन करने वाले विद्यालयों के अध्यापको व मुखियाओ को सम्मानित करेगा. बता दें कि हर जिले में 5 सितंबर यानि टीचर डे के मौके पर उपायुक्त की अध्यक्षता में सम्मान समारोह का आयोजन किया जाएगा. अंबाला में भी इस बार पिछले साल के मुकाबले आठ हजार एडमिशन की बढ़ोतरी हुई. अंबाला जिला शिक्षा अधिकारी ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि हमें विभाग की तरफ से एक पत्र आया है जिसमें निर्धारित मापदंड के अंतर्गत एडमिशन बढ़ाने वाले स्कूलों की लिस्ट मांगी गई है. खंड शिक्षा अधिकारियों से नाम लेकर विभाग और उपायुक्त के पास भेजे जाएंगे. साथ ही उन्होंने बताया कि कोरोना काल में सरकारी स्कूलों के प्रति अभिभावकों का विश्वास पहले से बढा है. अंबाला में 8000 की वृद्धि के साथ विद्यार्थियों की संख्या 86000 पार कर चुकी है. वही जिला के प्रेमनगर सरकारी विद्यालय में इस साल सबसे ज्यादा 169 बच्चों की वृद्धि दर्ज की गई है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!