हरियाणा रोडवेज के बेड़े में शामिल होंगी इलेक्ट्रिक बसें, यहाँ पढ़े लेटेस्ट अपडेट

हिसार, Electric Buses Haryana | डीजल की बढ़ती कीमतों का असर अब सरकारी तंत्र पर भी दिखाई देने लगा है. डीजल की खपत से बचने और धुँआ प्रदूषण को कम करने के लिए सरकार हर संभव कोशिश कर रही है. अब जल्द ही रोडवेज में भी इलेक्ट्रिक बसें दौड़ती नजर आएंगी . हरियाणा सरकार व परिवहन विभाग की ओर से हिसार डिपो के पास एक पत्र आया है. इस पत्र में अधिकारियों से इलेक्ट्रिक बसों की मांग की रिपोर्ट मांगी गई है.

Electric Buses

जल्द हिसार की सड़कों पर दौड़ेगी इलेक्ट्रिक बसें 

इसके तहत हिसार डिपो ने 100 इलेक्ट्रिक बसों की मांग रखी है. हिसार डिपो ने 80 स्टैंडर्ड इलेक्ट्रिक बसें 12 मीटर और 20 एसी इलेक्ट्रिक बसों की मांग की है. जल्द ही प्रोसेस शुरू होने वाली है. कुछ दिन पहले ही परिवहन विभाग से डीजी का पत्र आया था, इसे लेकर हिसार डिपो के जीएम ने संबंधित रोडवेज अधिकारियों के साथ बैठक भी की थी. इस बैठक में मंथन किया गया था कि किस रूट पर कितनी इलेक्ट्रिक बसों को चलाया जाएगा.

विद्यार्थी पहुंच पाएंगे समय पर स्कूल और कॉलेज 

परिवहन विभाग ने इलेक्ट्रिक बसों की पांच श्रेणियों में मांग भेजी थी कि कौन सी बस कामयाब है जैसे कि ला फ्लोर, स्टैंडर्ड, सात व नौ मीटर लंबाई में बस, 12 मीटर लंबाई में बस, एसी बस आदि. इनमें से डिपो ने स्टैंडर्ड व 12 मीटर वाली श्रेणी की बसों की मांग रखी है. रोडवेज अधिकारियों ने बताया कि जिले भर में 60 से 65 हजार बस पास विद्यार्थी है,जो अन्य डिपो के मुकाबले कहीं ज्यादा है.

यह भी पढ़े -   सब्सिडी पर सोलर पंप लगवाने के लिए आवेदन 23 अगस्त से शुरू, ऐसे कर सकते है रजिस्ट्रेशन

इसी को ध्यान में रखते हुए रोडवेज ने 80 स्टैंडर्ड इलेक्ट्रिक बसों की मांग रखी है, ताकि हर गांव में विद्यार्थियों तक बसों की सुविधा पहुंचाई जा सके. विद्यार्थी भी समय पर स्कूल, कॉलेज मे पहुंच पाए. इन दिनों रोडवेज में बसों की कमी है. स्टैंडर्ड इलेक्ट्रिक बसें सामान्य रोडवेज बसों की तरह ही होगी. लो फ्लोर बसें ग्रामीण एरिया में कामयाब होना मुश्किल है, क्योंकि यह बसे नीची होती है, यहां ब्रेकर व गड्ढे ज्यादा है. यह बसे वोल्वो बस की तरह होती है. एसी इलेक्ट्रिक बसें रोहतक या सिरसा रोड पर ही दौड़ सकती है, इनकी क्षमता 200 किलोमीटर की है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!