हरियाणा के गुरुग्राम- फरीदाबाद से IGI एयरपोर्ट पहुंचना होगा बेहद आसान, जल्द शुरू होगा मेट्रो का ये नया रूट

नई दिल्ली | राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में लोगों को बेहतर यातायात सुविधा उपलब्ध कराने के उद्देश्य से मेट्रो कनेक्टिविटी को बढ़ावा दिया जा रहा है. इसी कड़ी में दक्षिणी दिल्ली में तुगलकाबाद को मेट्रो हब के रूप में विकसित किया जा रहा है. इसके लिए मेट्रो के फेज- 4 के तहत गोल्डन लाइन तुगलकाबाद- एयरोसिटी के निर्माणाधीन भूमिगत मेट्रो स्टेशन को मौजूदा वॉयलेट लाइन के एलिवेटेड स्टेशन से जोड़ा जाएगा.

Metro Train

IGI एयरपोर्ट पहुंचना होगा आसान

दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (DMRC) के इस कदम से दक्षिणी दिल्ली, फरीदाबाद और गुरुग्राम से IGI एयरपोर्ट पहुंचना बेहद आसान हो जाएगा. यात्रियों की सहूलियत के लिए तुगलकाबाद, छतरपुर, साकेत G ब्लॉक और एयरोसिटी में इंटरचेंज स्टेशन होंगे. यहां दिल्ली मेट्रो की पहली इंटरचेंज सुविधा होगी, जिसमें भूमिगत पार्किंग की सुविधा मिलेगी.

इस कॉरिडोर पर महिपालपुर, वसंत कुंज, छतरपुर, इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय, मैदान गढ़ी, नेबसराय, साकेत, खानपुर, संगम विहार और तुगलकाबाद के घनी आबादी वाले क्षेत्रों में रहने वालों को भी मेट्रो की सुविधा मिलेगी. इस मेट्रो कॉरिडोर के तैयार होने का सीधा लाभ महिपालपुर-महरौली रोड, महरौली- बदरपुर रोड और इग्नू रोड के यात्रियों को भी मिलेगा. इसके अलावा, दक्षिण दिल्ली और महरौली- बदरपुर रोड़ के साथ घनी आबादी वाले क्षेत्रों के लोगों को सीधे IGI एयरपोर्ट पहुंचने की सुविधा मिलेगी.

डेढ़ घंटे का बचेगा समय

23.6 किलोमीटर लंबे एयरोसिटी- तुगलकाबाद कॉरिडोर के भूमिगत हिस्सों पर काम चल रहा है. यह कॉरिडोर एयरपोर्ट एक्सप्रेस लाइन को वॉयलेट लाइन से जोड़ेगा, जिसमें 4 एलिवेटेड और 11 भूमिगत सहित कुल 15 मेट्रो स्टेशन होंगे. इस नए रूट के शुरू होने पर फरीदाबाद और आसपास के लोग कम समय में IGI एयरपोर्ट पहुंच सकेंगे. यात्री तुगलकाबाद इंटरचेंज स्टेशन पर उतरकर IGI एयरपोर्ट तक सीधे जा सकेंगे.

वर्तमान में वॉयलेट लाइन के यात्रियों को केंद्रीय सचिवालय पर उतरकर एयरपोर्ट एक्सप्रेस लाइन पर जाना पड़ता है. इससे डेढ़ घंटे का समय लगता है. DMRC का कहना है कि इस कॉरिडोर का निर्माण कार्य 2025 तक पूरा हो जाएगा.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!