हरियाणा में आंगनबाड़ी वर्कर की बेटी शिवानी बनी SDM, खुशी में छलक पड़ी मां की आंखें

पानीपत | “कौन कहता है कि आसमान में छेद नहीं हो सकता, एक पत्थर तो तबीयत से उछालो यारो”. इस कहावत को चरितार्थ कर दिखाया है, पानीपत जिले के समालखा हल्के के गांव भोडवाल माजरी की 22 वर्षीया शिवानी पांचाल ने, जिसने हाल ही में हरियाणा पब्लिक सर्विस कमीशन (HPSC) की परीक्षा पास करके न सिर्फ अपने परिजनों बल्कि गांव व जिला का नाम रोशन किया है. शिवानी को SDM पद पर नियुक्ति मिली है. बेटी की उपलब्धि पर परिजनों को गर्व महसूस हो रहा है.

Shiwani Panchal HCS

आंगनबाड़ी वर्कर है मां

BC-A कैटेगरी में एचसीएस बनी शिवानी पांचाल गांव भोडवाल माजरी के एक साधारण व संयुक्त परिवार से ताल्लुक रखती है. उनकी माता सविता एक आंगनबाड़ी कार्यकर्ता हैं जबकि उनके पिता स्वर्गीय दिलबाग सिंह की साल 2005 में एक सड़क दुघर्टना में मौत हो चुकी है.

प्राइवेट नौकरी के साथ जारी रखी पढ़ाई

शिवानी के चाचा नरेश पांचाल पुलिस अधिकारी हैं. उन्होंने बताया कि शिवानी ने कक्षा बारहवीं तक की पढ़ाई समालखा के चंदन बाल विकास स्कूल से पूरी की तथा NIT कुरूक्षेत्र से सिविल इंजीनियरिंग में बी- टेक किया. उसके बाद शिवानी ने रेवाड़ी के बावल क्षेत्र में एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी भी की.

चाचा ने बताया कि शिवानी ने नौकरी के साथ साथ सैल्फ स्टडीज भी जारी रखी और उसकी मेहनत का नतीजा है कि आज वह HCS परीक्षा पास करके एसडीएम बन गयी है, जिससे पूरे परिवार ही नहीं पूरे गांव में खुशी का माहौल है. हर कोई बेटी की मेहनत की तारीफ करते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना कर रहा है. शिवानी की मां ने बताया कि बेटी की उपलब्धि पर आंखों में ख़ुशी के आंसु है. मुझे अपनी बेटी पर गर्व है कि उन्होंने अपने परिवार का नाम रोशन कर दिखाया.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!