Haryana Weather Update: हरियाणा में आज होगी जबरदस्त मानसूनी बारिश, अगले 1 हफ्ते तक राज्य में मौसम विभाग का मानसूनी अलर्ट

Casino

चंडीगढ़ | जुलाई के शुरुआती दिनों और पूरे जून माह में भीषण गर्मी का सामना करने के बाद आखिरकार उत्तर भारत में मानसून के सक्रिय होने की परिस्थितियां बनने जा रही है. हालांकि तमाम राज्यों में समय-समय पर मौसम परिवर्तनशील जरूर लेकिन अधिकतर वातावरण शुष्क ही रहा. मौसम विभाग की तमाम रिपोर्टों की माने तो विशेषकर उत्तर भारत के हरियाणा राज्य के लोगों के लिए बड़ी राहत की खबर है.

BARISH HARYANA

हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय हिसार के कृषि मौसम विभागाध्यक्ष डॉ. मदन खिचड़ द्वारा जारी मॉनसून पूर्वानुमान रिपोर्ट के मुताबिक, हरियाणा राज्य में लंबे इंतजार के बाद अब मानसून की सक्रियता बढ़ने जा रही है. आज प्रदेश के उत्तरी क्षेत्रों के ज्यादातर जिलों में तथा दक्षिण-पश्चिमी क्षेत्रों में कुछ एक स्थानों पर बारिश होने जा रही है. मौसम विभाग की पूर्वानुमान रिपोर्ट में इस बात का भी जिक्र किया गया है कि कल 12 जुलाई से राज्य के भीतर मानसून की सक्रियता तेजी से बढ़ेगी. जिसके बाद राज्य के लगभग सभी जिलों में तेज गरज चमक के साथ बारिश होने की संभावनाएं बनेंगी. 15 जुलाई तक राज्य में मॉनसून अपनी सक्रियता दर्ज करवाएगा. इस दौरान कई क्षेत्रों में भारी बारिश भी होगी.

मौसम विभाग द्वारा जारी सूचना के मुताबिक, 9 जुलाई से मानसूनी टर्फ रेखा हिमालय की तलहटियों से हरियाणा राज्य के दक्षिण की ओर नीचे की ओर आना शुरू हुई और वही आज यानी रविवार से बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र बनेगा जिसके बाद पूर्वी हवाओं को मजबूती मिलेगी. जिससे अभी जो हवाएं 3 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से बह रही है उनकी रफ्तार 5 किलोमीटर प्रति घंटे से भी अधिक हो जाएगी. पूर्वी हवाओं की तेज गति के कारण मानसूनी हवाओं को अतिरिक्त गति मिलेगी. वातावरण में बन रही इन परिस्थितियों के कारण राज्य के भीतर अगले 5-6 दिनों में जबरदस्त रूप से मानसून सक्रिय रहेगा.

यह भी पढ़े -   अगले तीन घंटों में हरियाणा के 16 जिलों में बारिश, 31 जुलाई तक प्रदेश में जारी रहेगा मानसून का कहर

हरियाणा प्रदेश के लिए भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, 26 जून के बाद राज्य का मौसम अधिकतर समय शुष्क ही रहा. 1 जून से 10 जुलाई तक 58 मिलीमीटर बारीश दर्ज हुई है, जो सामान्य बारिश (87.4 मिलीमीटर) से 34 प्रतिशत कम बारिश दर्ज हुई है. मानसून बारिश के बाद जहां एक ओर लोगों को गर्मी से छुटकारा मिलेगा तो वहीं कृषि और किसानों के लिए यह बड़ी राहत की बारिश होगी.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!