प्रदेश में 1.80 लाख से कम आय वाले 49,950 परिवारों की पहचान

चंडीगढ़ । हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना (MMAPUY) के तहत परिवार की पहचान हो जाने के बाद कौशल प्रशिक्षण और रोजगार या स्वरोजगार स्थापित करने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान कर उस परिवार की आय 1 लाख रुपए करना सुनिश्चित किया जाए. इसके बाद इस आय को 1.80 लाख करना सुनिश्चित करें.

haryana cm press conference
मुख्यमंत्री मनोहर लाल वीरवार को चंडीगढ़ में विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ MMAPUY की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे. बता दें कि परिवार पहचान पत्र योजना हरियाणा सरकार की बेहद महत्वाकांक्षी योजनाओं में से एक है. सरकार परिवार पहचान पत्र के माध्यम से सभी सरकारी योजनाओं का लाभ हर उस परिवार व आम आदमी तक पहुंचाना सुनिश्चित करना चाहती है जो इसके लिए पात्र हैं. इस योजना के तहत पहले चरण में परिवार पहचान पत्र के माध्यम से 49,950 परिवारों की पहचान की गई है. करीब 19 हजार आवेदनों को विभिन्न विभागों को आगे की कार्रवाई के लिए भेज दिया गया है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा के इस गांव में 24 घंटे के लिए बाहर जाने व अंदर आने पर लगी पाबंदी, जानें वजह

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने अधिकारियों को यह सुनिश्चित करने के निर्देश दिए कि केवल पात्र परिवारों को ही सरकारी योजनाओं का लाभ मिलें. उन्होंने कहा कि हर छः महीने में समीक्षा बैठक का आयोजन किया जाएं. मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि इस योजना के तहत 18 विभागों की कल्याणकारी योजनाओं को लाभार्थियों तक पहुंचाने का काम किया जाएं.

यह भी पढ़े -   खुशखबरी: ‘स्वस्थ हरियाणा’ ऐप लॉन्च, अब घर बैठे कटेगी अस्पताल में इलाज की पर्ची

सीएम ने कहा कि बाकी गरीब परिवारों की पहचान की जाएं और उन्हें जल्द से जल्द सरकारी सुविधाओं का लाभ पहुंचाने के प्रयास किए जाएं. समीक्षा बैठक के दौरान सीएम मनोहर लाल के अलावा प्रधान सचिव डीएस ढेसी,वी. उमाशंकर, अमित अग्रवाल, आशिमा बराड़ , वीनीत गर्ग सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!