सफर करने से पहले जान लें रेलवे की नई गाइडलाइंस, कोरोना के नए वैरिएंट पर ‘अलर्ट मोड’ में रेलवे

पानीपत । रेल में सफर करने वालों के लिए यह खबर बेहद जरूरी है. कोरोना के नए स्वरूप ओमिक्रॉन के सामने आने के बाद रेलवे ने भी सख्ती बरतनी शुरू कर दी है. कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के सामने आने पर रेलवे भी चौकन्ना हो गया है और कोरोना को लेकर यात्रियों के लिए नई गाइडलाइंस जारी कर दी है. ऐसे में यदि आप ट्रेन से सफर करने की सोच रहे हैं तो नई गाइडलाइंस के बारे में अच्छी तरह से जान लें, अन्यथा आपको परेशानी का सामना करना पड़ सकता है.

TRAIN RAILWAY STATION

रेलवे मुख्यालय ने जारी किए आदेश

उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक आशुतोष ने बताया कि मंगलवार को अंबाला, दिल्ली, लखनऊ, मुरादाबाद और फिरोजपुर मंडल के अधिकारियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए चर्चा करते हुए कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन को लेकर जरुरी दिशानिर्देश जारी कर दिए हैं. कोरोना काल के दौरान जो गाइडलाइंस जारी की गई थी ,उनको दोहराते हुए इस में ढील न देने के आदेश दिए गए हैं.

सभी कर्मचारी लगवाएं दूसरी डोज

महाप्रबंधक आशुतोष ने बताया कि वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान जोन में सभी मंडलों में कार्यरत अधिकारियों व कर्मचारियों के कोरोना वैक्सीन की डोज लेने के बारे में चर्चा की गई. उन्होंने बताया कि 90 फीसदी कर्मचारी व अधिकारी कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लें चुके हैं , जबकि 60 फीसदी अधिकारियों व कर्मचारियों ने कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज ली है.

यह भी पढ़े -   शादी के कार्ड पर पढ़ने को मिल रहा है कुछ नया, इस तरह लोगो तक पहुंचाए जा रहे हैं ये संदेश

ऐसे में सभी कर्मचारियों व अधिकारियों को दूसरी डोज लगवाने के लिए अपील की गई है. खतरा बढ़ने की संभावनाओं को देखते हुए तीसरी बूस्टर डोज के निर्देश आते हैं, तो वह भी प्राथमिकता से लगवाई जाए. इसके लिए कर्मचारियों को जागरूक करने को कहा गया है.

रिजर्वेशन फॉर्म पर पहले की तरह पता देना होगा

इसके साथ ही निर्देश दिए गए हैं कि यात्रियों को लेकर भी कोरोना गाइडलाइंस की पालना की जाएं. यात्रियों को पहले की तरह ही रिजर्वेशन फॉर्म पर गंतव्य स्थान का पता देना होगा. इसी तरह रेलवे अस्पतालों में ऑक्सीजन प्लांट को दुरुस्त रखने के निर्देश दिए गए हैं और साथ ही रुटीन चेकअप करने को कहा गया है ताकि जरूरत पड़ने पर किसी तरह की परेशानी नहीं उठानी पड़े.

यह भी पढ़े -   आदिबद्री डैम बनाने हेतु हरियाणा तथा हिमाचल सरकार के बीच हुआ MoU हस्ताक्षर, ये होंगे फायदे !

हालांकि अब रेलवे विभाग के लिए यात्रियों को मास्क और शारिरिक दूरी जैसे नियमों की पालना करवाना किसी चुनौती से कम नहीं होगा लेकिन रेलवे का कहना है कि स्वास्थ्य विभाग की ओर से कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन को लेकर जो भी गाइडलाइंस जारी की जाएगी,उसका सख्ती से पालन करने पर जोर दिया जाएगा.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!